छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना 2021, आवेदन (CG Godhan Nyay Yojana in Hindi), Application

    छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना 2021, कीमत, गोबर खरीदने वाली योजना, आवेदन, पात्रता, दस्तावेज, ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, अधिकारिक वेबसाइट, हेल्पलाइन नंबर (CG Godhan Nyay Yojana in Hindi) (Online Application, Eligibility, Documents, Official Website, Helpline Number)

    शहरों की अपेक्षा गांव में रोजगार के मौके कम होते हैं, जिससे पुरुषों के साथ साथ महिलाओं को भी रोजगार के लिए शहरों की तरफ पलायन करना पड़ता है। लेकिन छत्तीसगढ़ राज्य सरकार द्वारा छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना नामक एक ऐसी योजना का संचालन किया गया है जिसके तहत पशुपालन करने वाले किसान गोबर बेच कर कमाई कर सकते हैं, इसके साथ ही आपको बता दें कि इसमें लिप्त कामकाजी महिलाएं भी इस योजना के साथ जुड़ करआत्मनिर्भर बनकर कमाई कर सकती है। तो यह योजना छत्तीसगढ़ राज्य के किन लोगों के लिए है? और कैसे इसका फायदा मिलेगा? पूरी जानकारी आपको इस आर्टिकल में मिलेगी।

    chhattisgarh godhan nyay yojana in hindi

    Table of Contents

    छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना 2021 (CG Godhan Nyay Yojana)

    योजना का नामगोधन न्याय योजना
    योजना की तिथिजुलाई 2021
    राज्य का नामछत्तीसगढ़
    लाभार्थीपशुपालन करने वाले किसान एवं ग्रामीण क्षेत्र की महिलाएं
    आधिकारिक वेबसाइटयहाँ क्लिक करें
    हेल्पलाइन नंबरNA

    छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना क्या हैं (What is CG Godhan Nyay Yojana)

    छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव जिले से शुरू हुई एक योजना है। इस योजना के अंतर्गत सरकार गाय भैंस पालने वाले पशुपालकों और किसानों से गोबर खरीदती हैं। और इस गोबर का उपयोग सरकार वर्मी कंपोस्ट खाद और जैविक खाद बनाने के लिए कर रही है। इस योजना को सही से लागू करने के लिए 358 गौठान भी स्थापित किए गए हैं जिससे करीब 1.5 करोड़ रुपए की कमाई भी हुई है। खबरों की माने तो इस योजना के अंतर्गत जो महिलाएं इस काम से जुड़ी हुई हैं, वह गोबर के उत्पाद बनाकर इससे ऑनलाइन बेच रही है।

    छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना उद्देश्य

    छत्तीसगढ़ राज्य में रहने वाले पशुपालक जिनकी आर्थिक स्थिति काफी खराब है। उनकी आर्थिक स्थिति में सुधार करने के लिए और उन्हें आत्मनिर्भर बनाने के लिए इस योजना को जारी किया गया है। इस योजना के अंतर्गत केवल पशुपालकों और किसान को ही लाभ नहीं दिया जा रहा है। बल्कि ग्रामीण क्षेत्र की महिलाओं को भी लाभ देने की कोशिश की जा रही है। इतना ही नहीं इस योजना के अंतर्गत सरकार को भी लाभ प्राप्त होगा‌। क्योंकि इस योजना के अंतर्गत बनाए जाने वाले उत्पादों को जब लोग खरीदेंगे, तो उसमें जो टैक्स लिया जाएगा वह सीधे सरकार को प्राप्त होगा। इस तरह से देखा जाए तो गोधन न्याय योजना सरकार के एक मल्टी परपस (बहुउद्देसीय) योजनाओं में से एक हैं! जिसे शुरू करने के पीछे सरकार का विशेष मकसद है।

    CG Godhan Nyay Yojana Benefit

    छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना के बारे में जानने और उसके उद्देश्य को समझने के बाद अब समझ गए होंगे, कि इस योजना के तहत सरकार कौन-कौन से लाभ पहुंचाने की कोशिश कर रही है। आपको स्पष्ट रूप से इसके लाभ बताने के लिए हमने नीचे कुछ पॉइंट्स का उपयोग किया है –

    Self Help Groups –

    इस योजना को सही से कार्यान्वित करने के लिए कई सारे Self help groups यानी कि स्वयं सहायता समूहों का निर्माण किया जा रहा है। इस समूह में ग्रामीण महिलाएं आसानी से भर्ती होकर इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकती हैं।

    गोबर रिसाइकल –

    जैसे कि हमें पता है कि गोबर का उपयोग बहुत से कामों में किया जाता है, लेकिन इस योजना के अंतर्गत गोबर का उपयोग सिर्फ खाद बनाने के लिए नहीं बल्कि कई अन्य सामानों को बनाने के लिए भी किया जा रहा है।

    ग्रामीण क्षेत्र में डिजिटलाइजेशन –

    गोधन न्याय योजना के अंतर्गत जो गोबर के उत्पाद तैयार किए जा रहे हैं, उन्हें ऑनलाइन भेजा जा रहा है जिससे गांव भी अब डिजिटलाइजेशन की ओर अपना कदम बढ़ा रहा है।

    घरेलू उद्योगों को बढ़ावा –

    इस योजना के अंतर्गत जो भी पशुपालक, किसान एवं महिलाएं जुड़ी है, वह गोबर के उपयोग करके उपले तो बना ही रही है, साथ ही साथ अन्य हस्तशिल्प, दिए और अन्य उत्पाद भी बना रही हैं।

    किसानों की आय में वृद्धि –

    इस योजना के तहत पशुपालक एवं किसान अतिरिक्त पैसा कमा सकते हैं. जिससे उनकी आय में वृद्धि होगी और उनकी स्थिति सुधरेगी. जिसके कारण उनका विकास होगा.

    महिलाओं को रोजगार की प्राप्ति –

    ग्रामीण क्षेत्र की महिलाएं जो इस योजना से जुड़े हुए हैं उन्हें घर बैठे ही रोजगार के अवसर मिल रहे हैं। अपने घरेलू जिंदगी में थोड़ा सा समय निकाल कर गोबर के उत्पाद बनाकर उन्हें ऑनलाइन बेचने का काम महिलाओं को मिल रहा है।

    महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाना –

    इस योजना के अंतर्गत विशेष तौर पर महिलाओं को भी शामिल किया जा रहा है जिससे महिलाओं को नसीब रोजगार के अवसर मिल रहे हैं बल्कि उनकी आर्थिक स्थिति भी सुदृढ़ हो रही है। इस तरह महिलाएं भी अब आत्मनिर्भर हो रही हैं।

    छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना विशेषता (CG Godhan Nyay Yojana Features)

    गोधन न्याय योजना की विशेषताओं को नीचे पॉइंट के माध्यम से व्यक्त किया गया है –

    आर्थिक सहायता –

    इस योजना के अंतर्गत सरकार ग्रामीण क्षेत्र की महिलाओं के साथ-साथ किसानों और पशुपालकों की भी आर्थिक सहायता कर रहे हैं।

    योजना में सुविधायें –

    इस योजना के अंतर्गत किसानों को यह सुविधा दी गई है कि वे गोबर बेचकर पैसे ले सकते हैं।

    गोबर का उपयोग –

    इस योजना के अंतर्गत सरकार किसानों और पशुपालकों से गोबर खरीद कर उसे वर्मी कंपोस्ट या जैविक खाद में बदल देगी। साथ ही साथ इस गोबर का उपयोग करके महिलाएं हस्तशिल्प वस्तुएं जैसे दीया, अन्य मिट्टी के वस्तु आदि का निर्माण करेंगी।

    गोबर का खरीद मूल्य –

    इस योजना के अंतर्गत सरकार पशुपालको और किसानों से ₹2 किलो गोबर खरीदेंगी। इस मूल्य पर परिवहन खर्च को भी शामिल किया जाएगा।

    योजना पर नियंत्रण –

    इस योजना के अंतर्गत गोबर खरीदी से लेकर गोबर से उत्पाद बनाकर बेचने तक का कार्य मुख्य सचिव की उपस्थिति में सचिव और उप सचिव के द्वारा संपन्न किया जाएगा।

    गोबर की कीमत का निर्धारण –

    ₹2 किलो गोबर का मूल्य काफी कम है इसलिए गोबर की कीमत निश्चित करने के लिए समीति की बैठक तैयार की गई हैं। इस बैठक के अध्यक्ष कृषि एवं जन संसाधन मंत्री रविन्द्र चौबे जी है।

    छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना दस्तावेज (CG Godhan Nyay Yojana Documents)

    अगर आप पशुपालक है और इस योजना के अंतर्गत लाभ प्राप्त करने की इच्छा रखते हैं तो आपके पास यह दस्तावेज होने चाहिए –

    1. आधार कार्ड,
    2. एड्रेस प्रमाण पत्र,
    3. मोबाइल नंबर,
    4. पशुओं से सम्बंधित जानकारी,
    5. पासपोर्ट साइज फोटो.

    इस योजना का लाभ लेने के लिए आप इन सभी दस्तावेजों को अपने साथ लेकर जाइए।

    छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना पात्रता (CG Godhan Nyay Yojana Eligibility)

    छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना का लाभ कोई लाभार्थी तभी ले सकता है जब उसके पास नीचे बताए गए सभी पात्रता हो –

    • पशुपालक का छत्तीसगढ़ राज्य का स्थाई निवासी होना अत्यंत आवश्यक है।
    • पशुपालक के पास रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट जरूर होनी चाहिए तभी वह इस योजना का लाभ प्राप्त कर पाएगा।
    • इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए जो दस्तावेज बताए गए हैं वह दस्तावेज भी जरूर होने चाहिए।

    तो अगर आपके पास यह पात्रता है तब आप इस योजना का लाभ प्राप्त करने में सक्षम है।

    छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना गोबर कहां बेचें

    सरकार द्वारा निर्मित गौठानों में –

    सरकार ने इस योजना के अंतर्गत छत्तीसगढ़ राज्य में कुल 5000 गौठानों के निर्माण की बात जारी की है। इस योजना के तहत 24 हजार गौठानों का निर्माण ग्रामीण क्षेत्र में किया गया है और 337 गौठान का निर्माण शहरी क्षेत्र में किया गया है। पशुपालक और किसान इन गौठानों में जाकर गोबर बेच सकते हैं।

    वर्मी कम्पोस्ट खाद निर्माण विभाग केंद्र

    सरकार इस योजना के अंतर्गत गोबर को जैविक खाद में परिवर्तित कर रही है और उसे लोगों को ₹8 के दर पर बेच रही है। इतना ही नहीं वर्मी कंपोस्ट खाद निर्माण विभाग केंद्र किसानों और पशुपालकों से भी गोबर खरीद रही है तो जो लोग  गोबर बेचना चाहते हैं। वह इस जगह पर अपना गोबर बेच सकते हैं।

    छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना आधिकारिक वेबसाइट (Godhan Nyay Yojana Official Website)

    छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना के अंतर्गत अगर आप ऑनलाइन अप्लाई करना चाहते हैं तो इस वेबसाइट लिंक पर क्लिक करके सीधे वेबसाइट पर जाकर आप इस योजना के लिए अप्लाई कर सकते हैं और अपनी आर्थिक स्थिति में सुधार ला सकते हैं।

    छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना आवेदन (Godhan Nyay Yojana Application)

    छत्तीसगढ गोधन न्याय योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए सरकार ने इस योजना में अप्लाई करने के लिए ऑनलाइन वेबसाइट और एप्लीकेशन दोनों ही चीजें जारी किए हैं। इस योजना में ऑनलाइन अप्लाई करने का तरीका इस प्रकार है –

    1. छत्तीसगढ गोधन न्याय योजना में ऑनलाइन अप्लाई करने के लिए आपको सबसे पहले इस लिंक पर क्लिक करके उसकी ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना है।
    2. वेबसाइट पर जाने के बाद आपको इस योजना से संबंधित लिंक पर क्लिक करना है।
    3. जैसे ही आप इस लिंक पर क्लिक करेंगे वैसे ही आपके सामने एक आवेदन फॉर्म खुल जाएगा। आप इस फॉर्म में पूछे गए सभी जानकारियों को ठीक से भरिए। यह सभी जानकारी सरकार के पास जाएगी तो इसे एक बार जांच जरूर करें।
    4. आवेदन फॉर्म में सभी जानकारी सही से भरने के बाद और फॉर्म की ठीक तरह से जांच करने के बाद आपको पूछे गए सभी दस्तावेजों की सॉफ्ट कॉपी अटैच करके सबमिट करना है। 
    5. जैसे ही आप सबमिट बटन पर क्लिक करेंगे वैसे ही आपका एप्लीकेशन प्रोसेस कंप्लीट हो जाएगा। ‌

    छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना मोबाइल एप्प (Mobile App)

    छत्तीसगढ गोधन न्याय योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आप App के जरिए भी अप्लाई कर सकते हैं। इसके लिए आपको सबसे पहले अपने प्ले स्टोर पर जाकर “गोधन न्याय योजना Mobile App” को डाउनलोड करना है और फिर एप्लीकेशन फॉर्म को पहले करके सभी जरूरी डॉक्युमेंट्स के साथ अटैच करके सबमिट कर देना है।

    छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना हेल्पलाइन नंबर (Helpline Number)

    छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना से संबंधित कोई भी हेल्पलाइन नंबर भी अब तक जारी नहीं हुई है। तो आप जो भी जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं उसे official website से प्राप्त कर सकते हैं।

    FAQ

    Q : छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना को किस जिले से शुरू की गई ?

    Ans : राजनांदगांव जिले

    Q : छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना की घोषणा किसने की ?

    Ans : इस योजना की घोषणा राजनांदगांव के District Magistrate, Taran Prakash Sinha ने की थी।

    Q : छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना के अंतर्गत अब तक कितने रुपए का आर्डर आ चुका है ?

    Ans : 1,00,000 रूपए आर्डर

    Q : छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना के अंतर्गत काम करने वाले ग्रुप में महिलाओं की संख्या कितनी हैं ?

    Ans : 30 महिलाएं

    Q : छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना से कितने रुपए का लाभ मिलेगा ?

    Ans : उत्पादों को बेचकर महिलाएं कम से कम ₹8000 कमा लेंगी।

    अन्य पढ़ें –

    1. इन्वेस्टगढ़ छत्तीसगढ़ परियोजना
    2. तुंहर सरकार तुंहर द्वार योजना छत्तीसगढ़
    3. राजीव गांधी किसान न्याय योजना छत्तीसगढ़
    4. नई बीपीएल सूची में नाम देखें

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here