इंदिरा रसोई योजना राजस्थान 2021, शुरुआत, लाभ, पात्रता (Indira Rasoi Yojana)

इंदिरा रसोई योजना राजस्थान 2021, शुरुआत कब हुई, लाभ, पात्रता, जॉब, दस्तावेज, आवेदन, अधिकारिक वेबसाइट, हेल्पलाइन नंबर (Indira Rasoi Yojana Rajasthan in Hindi) (Starting Date, Launch Date, Benefit, Eligibility, Documents, Application, Official Website, Helpline Number)

एक तरफ भारत कई क्षेत्रों में प्रगति कर रहा है मगर भारत देश में अब भी गरीबी की वजह से भूखमरी एक गंभीर समस्या है। भारत के ऐसे कई राज्य है जहां लोगों को अब भी दो वक्त का पौष्टिक आहार नहीं मिल पाता। समय-समय पर भारत सरकार चाहे वह केंद्रीय हो या राज्य सरकारें विभिन्न योजनाओं के द्वारा नागरिकों को राशन, खाना-पीना और मेडिकल जैसी सुविधाएं उपलब्ध कराती है। ऐसी ही एक योजना की शुरुआत राजस्थान सरकार ने अपने राज्य के नागरिकों के लिए अगस्त 2020 में की थी। हम बात कर रहे हैं इंदिरा रसोई योजना की। राजस्थान सरकार ने अगस्त 2020 में यह संकल्प लिया था कि राजस्थान राज्य का कोई भी इंसान भूखे पेट नहीं सोएगा। इसलिए राज्य सरकार राजस्थान के जरूरतमंद लोगों को बहुत ही कम दाम में दो वक्त का पौष्टिक भोजन देती है। हम इस आर्टिकल के माध्यम से आपको इंदिरा रसोई योजना से जुड़ी सभी जानकारी देंगे। 

indira rasoi yojana rajasthan in hindi

Table of Contents

इंदिरा रसोई योजना राजस्थान 2021 (Indira Rasoi Yojana)

योजना का नामइंदिरा रसोई योजना
किसके द्वारा लाई गईराजस्थान सरकार
कब शुरुआत हुईअगस्त 2020
राज्यराजस्थान
उद्देश्यराजस्थान के जरूरतमंद लोगों को पौष्टिक भोजन देना
सालाना बजट100 करोड़
कितने रुपए प्रति थाली भोजन₹8
संकल्पकोई भी भूखा नहीं सोए
अधिकारिक वेबसाइटयहाँ क्लिक करें
हेल्पलाइन नंबर1800-1806-127

इंदिरा रसोई योजना राजस्थान क्या है (What is Indira Rasoi Yojana)

इंदिरा रसोई योजना राजस्थान सरकार द्वारा जारी की गई एक ऐसी योजना है जिसके अंतर्गत राजस्थान के गरीब लोगों को बहुत ही कम रेट में खाना प्रदान किया जाएगा। इंदिरा रसोई योजना केवल ₹8 में राजस्थान के लोगों को खाना देगी। ऐसे लोग जो मजदूरी करके अपनी रोजी-रोटी चलाते हैं या ऐसे लोग जिनकी आय बहुत ही कम है और रोज का आहार नहीं मिल पाता, उनको इस योजना के तहत खाना मुहैया कराया जाएगा। 

इंदिरा रसोई योजना राजस्थान उद्देश्य (Objective)

इंदिरा रसोई योजना का उद्देश्य राजस्थान के जरूरतमंद लोगों को दो वक्त का पौष्टिक भोजन प्रदान करना है। ऐसे लोग जिनकी आए बहुत कम है, मजदूर हैं और गरीबी की वजह से दो वक्त का खाना भी नहीं खा पाते उनको बहुत ही कम दाम में यानी के सिर्फ ₹8 प्रति थाली देना है। 

इंदिरा रसोई योजना विशेषताएं (Indira Rasoi Yojana Features)

  • इंदिरा रसोई योजना के अंतर्गत राजस्थान के ऐसे लोग जिनको दो वक्त का ठीक से खाना भी नहीं मिल पाता उन लोगों को बहुत ही कम दाम में भोजन दिया जाएगा। 
  • भोजन पौष्टिक होगा और कम से कम 2 वक्त के लिए होगा।
  • ₹8 प्रति थली होगा एक समय के भोजन का दाम और दो वक्त का खाना मिलेगा महज ₹16 में। 
  • प्रतिवर्ष सरकार 100 करोड़ रुपयों का बजट इस योजना के लिए इस्तेमाल करेगी। 
  • हर व्यक्ति के भोजन के लिए कुल ₹20 लगेंगे। इसमें से जरूरतमंदों को सिर्फ ₹8 प्रति थाली देना होगा। मगर अब कोरोना की लहर के बाद और साथ ही साथ फ्रॉड जैसी कई घटनाओं के बाद राज्य सरकार ने निःशुल्क भोजन देने का विचार भी किया है। ‌
  • लोगों को खाना देने के लिए राज्य के शहरों में कैंटीन स्थापित किए जाएंगे। 
  • माना जा रहा है कि राज्य सरकार विभिन्न एनजीओस(NGOs) की मदद लेने का प्रस्ताव भी रखेगी। 
  • जरूरतमंदों को खाना सुबह 8:30 बजे से लेकर दोपहर 1:00 बजे तक मिलेगा और डिनर (dinner) शाम 5:00 बजे से लेकर रात के 8:00 बजे तक। 
  • खाने में सौ ग्राम सब्जी, 100 ग्राम दाल, 250 ग्राम चपाती और आचार मिलता है। 
  • जिला स्तरीय समितियों के द्वारा खाने की जरूरतों का ध्यान, निरीक्षण और गुणवत्ता की जांच का ख्याल रखा जाएगा। जिला कलेक्टर के द्वारा शिकायतें दर्ज की जाएंगी। 
  • एक्सटेंशन काउंटर द्वारा भोजन उपलब्ध कराया जाएगा।
  • इस योजना में कोई भी संस्था, व्यक्ति, फर्म आदि आर्थिक मदद कर सकती है। इसके लिए मुख्यमंत्री सहायता कोष में सहायता राशि डायरेक्ट ट्रांसफर की जा सकती है। या फिर जिला स्तरीय रजिस्टर्ड बैंक खाते में भी अमाउंट जमा करा सकते हैं। 

इंदिरा रसोई योजना राजस्थान पात्रता (Eligibility)

  • इंदिरा रसोई योजना का लाभ राजस्थान के वे सभी लोग ले सकते हैं जिनको दो वक्त के पौष्टिक आहार की जरूरत है। 
  • ऐसे लोग जिनकी आय बहुत कम है या मजदूरी करके दिन का गुजारा करते हैं योजना का लाभ लेंगे। 
  • इंदिरा रसोई योजना राजस्थान के जरूरतमंद लोगों को पौष्टिक और शुद्ध खाना देगी। 

इंदिरा रसोई योजना राजस्थान दस्तावेज (Documents) 

राज्य सरकार के बनाए गए नियमों के अनुसार इंदिरा रसोई योजना के तहत पौष्टिक भोजन खाने के लिए जरूरतमंदों को कोई भी दस्तावेज लाने या दिखाने की आवश्यकता नहीं होगी। 

इंदिरा रसोई योजना राजस्थान सब्सिडी (Subsidy)

इंदिरा रसोई योजना के अंतर्गत राजस्थान के जरूरतमंदों को जो पौष्टिक आहार मिलेगा उसके लिए प्रति व्यक्ति के लिए ₹20 का खर्च होगा। इनमें से ₹12 राज्य सरकार देगी और बचे हुए 8 रुपए जरूरतमंद को अपनी तरफ से देना होगा। 

इंदिरा रसोई योजना राजस्थान ऑफिशल वेबसाइट (Official Website)

राजस्थान सरकार ने हाल ही में इंदिरा रसोई योजना ऑफिशल वेबसाइट का निर्माण किया है। जरूरतमंदों को इंदिरा रसोई योजना से जुड़ी सभी जानकारी ऑफिशियल वेबसाइट पर मिल सकती है। इसके लिए वे इस लिंक पर क्लिक कर सकते हैं. 

इंदिरा रसोई योजना राजस्थान आवेदन (Application)

इंदिरा रसोई योजना के लिए किसी भी आवेदन की आवश्यकता नहीं है। राज्य सरकार राजस्थान के विभिन्न शहरों में कैंटीन की स्थापना करवाएगी और लोगों को भोजन उपलब्ध कराएगी। जरूरतमंदों को सिर्फ ₹8 प्रति थाली देने होंगे और दो वक्त का खाना खाने के लिए उन्हें ₹16 देने होंगे। 

इंदिरा रसोई योजना राजस्थान हेल्पलाइन नंबर (Helpline Number)

योजना से जुड़ी कोई भी समस्या अगर हो या फिर कोई भी जानकारी हासिल करनी हो तो जरूरतमंद इस हेल्पलाइन नंबर 1800-1806-127 पर संपर्क कर सकते हैं जो कि इसकी आधिकारिक वेबसाइट पर दी गई है. जरूरतमंद ई-मेल से भी संपर्क कर सकते हैं इसके लिए ई मेल आईडी indirarasoi.lsg@rajasthan.gov.in है. इसके अलावा वे इस पते पर भी संपर्क कर सकते हैं: 

स्वायत्त शासन भवन, जी-3, 

राजमहल रेजिडेंशियल एरिया, 

सिविल लाइन्स रेलवे क्रासिंग के पास, 

जयपुर।

FAQ

Q : क्या इंदिरा रसोई योजना सिर्फ राजस्थान के जरूरतमंद लोगों के लिए है? 

Ans : हां।

Q : इंदिरा रसोई योजना के अंतर्गत सरकार सालाना कितने रुपयों का बजट इस्तेमाल करेगी?

Ans : 100 करोड़।

Q : इंदिरा रसोई योजना के अंतर्गत प्रति थाली कितने रुपयों की होगी?

Ans : ₹8

Q : इंदिरा रसोई योजना के लिए सरकार की तरफ से सब्सिडी कितनी होगी?

Ans :  हर व्यक्ति के लिए ₹20 का खर्चा होगा जिनमें से ₹12 की सब्सिडी राज्य सरकार देगी। 

Q : इंदिरा रसोई योजना कब शुरू हुई?

Ans : अगस्त 2020

अन्य पढ़ें –

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here