प्रधानमंत्री लघु उद्योग योजना 2021, लोन, सब्सिडी, ऑनलाइन आवेदन (PM Laghu Udyog Yojana [PMLUY] in Hindi)

    प्रधानमंत्री लघु उद्योग योजना 2021, लोन, ऋण, सब्सिडी, ऑनलाइन आवेदन, खुद का बिज़नेस शुरू करें, सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग, पात्रता, दस्तावेज, अधिकारिक वेबसाइट, हेल्पलाइन नंबर (PM Laghu Udyog Yojana [PMLUY] in Hindi) (Micro, Small and Medium Udyog, Business, Loan, Subsidy, Online Application, Eligibility, Documents, Official Website, Helpline Number)

    कोरोनावायरस आने के कारण लोगों के रोजगार धंधे पर काफी बुरा प्रभाव पड़ा था, जिसके कारण कई लोग बेरोजगार हो गए थे। हालांकि अब करोना की रफ्तार धीमी पड़ी है और गवर्नमेंट यह चाहती है कि इंडिया अपने पैरों पर खुद खड़ा हो। देश में रोजगार के नए अवसर पैदा करने के लिए व्यापारियों की आवश्यकता होती है। इसी बात को समझते हुए सेंट्रल गवर्नमेंट उद्यमियों को कम ब्याज दर पर लोन प्रदान करने के लिए एक नयी योजना लागू कर चुकी है, जिसका पूरा नाम पीएम लघु उद्योग योजना है?  आज हम आपके साथ इस आर्टिकल में पीएम लघु उद्योग योजना की जानकारी दे रहे हैं।

    pm laghu udyog loan scheme in hindi

    Table of Contents

    प्रधानमंत्री लघु उद्योग योजना 2021 (PM Laghu Udyog Yojana)

    योजना का नामप्रधानमंत्री लघु उद्योग योजना
    साल2021
    किसने लांच कियाकेंद्र सरकार ने
    उद्देश्यलोगों को आवश्यकता के अनुसार लोन देना
    अधिकतम लोन की राशि10 से 25 लाख रूपये तक   
    संबंधित डिपार्टमेंटभारतीय लघु उद्योग विकास बैंक और सेंट्रल गवर्नमेंट
    अधिकारिक वेबसाइटयहाँ क्लिक करें
    टोल फ्री नंबरनहीं है

    प्रधानमंत्री लघु उद्योग योजना का उद्देश्य

    प्रधानमंत्री लघु उद्योग योजना का मुख्य उद्देश्य ऐसे लोगों को लोन तथा व्यापार सम्बन्धी सेवायें पहुंचाना है जो अपना कोई रोजगार अथवा बिजनेस स्टार्ट करना चाहते हैं। इससे वे अपना रोजगार स्टार्ट करके अपने पैरों पर खड़े होंगे और आत्मनिर्भर बनेंगे, और इससे रोजगार के नए अवसर भी पैदा होंगे। लघु उद्योग स्टार्ट करने के लिए कम इन्वेस्टमेंट में बिजनेस स्टार्ट किया जा सकता है और गवर्नमेंट इस पर सब्सिडी देकर लोगों की पूरी सहायता भी करती है।

    प्रधानमंत्री लघु उद्योग योजना उद्योग के प्रकार

    लघु उद्योग कई प्रकार के होते हैं, जिनमें से कुछ के नाम हम आपको नीचे दे रहे हैं।

    1. वन आधारित उद्योग
    2. सेवा उद्योग
    3. कृषि आधारित उद्योग
    4. इंजीनियरिंग
    5. खाद्य उद्योग
    6. खनिज आधारित उद्योग
    7. रसायन आधारित उद्योग
    8. वस्त्र उद्योग (इसमें खादी शामिल नहीं है)
    9. गैर परम्परागत ऊर्जा

    इस प्रकार के उद्योग के लिए क्रेडिट गारंटी फंड स्कीम, मुद्रा योजना, मध्यम और छोटे उद्योग के लिए क्रेडिट लिंक कैपिटल सब्सिडी योजना  MSME स्कीम गवर्नमेंट की चलाई जा रही हैं।

    प्रधानमंत्री लघु उद्योग योजना लोन के लिए दस्तावेज

    • आधार कार्ड
    • पैन कार्ड
    • जाति प्रमाण पत्र
    • निवास प्रमाण पत्र
    • शैक्षणिक योग्यता
    • बिजनेस की इंफॉर्मेशन
    • बैंक पासबुक की फोटो कॉपी
    • रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर
    • ईमेल आईडी
    • पासपोर्ट आकर की फोटोग्राफ आदि.

    क्रेडिट गारंटी फंड ट्रस्ट

    अब भारतीय लघु उद्योग विकास बैंक और Indian government ने उद्यमशीलता को बढ़ावा देने के लिए क्रेडिट गारंटी फंड ट्रस्ट की स्थापना की है। क्रेडिट गारंटी फंड ट्रस्ट के द्वारा मशीनरी या फिर प्लांट स्थापित करने के लिए ₹25,00000 के लोन से लेकर 5 करोड रुपए तक के लोन को उद्यमियों को दिया जाएगा।

    आइए आपको इस बात की इंफॉर्मेशन देते हैं कि credit guarantee fund trust क्या है? और कैसे व्यक्ति क्रेडिट गारंटी फंड ट्रस्ट का फायदा उठा कर के अपने बिजनेस को स्टार्ट कर सकता है।

    क्रेडिट गारंटी फंड ट्रस्ट क्या है?

    मध्यम उद्यम, सूक्ष्म एवं लघु मंत्रालय और भारतीय लघु उद्योग विकास बैंक के संयुक्त प्रयास के द्वारा क्रेडिट गारंटी फंड ट्रस्ट को स्टार्ट किया गया है। इस फंड का पूरा नाम क्रेडिट गारंटी फंड ट्रस्ट फॉर माइक्रो एंड स्मॉल एंटरप्राइजेज है । यह ट्रस्ट ऐसे स्टूडेंट और लोगों के लोन की गारंटी लेता है, जब वह कोई बिजनेस से संबंधित लोन लेते हैं।

    क्या होता है लघु उद्योग?

    लघु उद्योग को अंग्रेजी में small business कहा जाता है। लघु बिजनेस से तात्पर्य एक ऐसे बिजनेस से है, जिसे कम investment के साथ और कम मजदूरी के साथ स्टार्ट किया जा सके। लघु उद्योग में व्यक्ति को कम इन्वेस्टमेंट करना पड़ता है परंतु इसमें काफी अच्छा फायदा व्यक्ति को प्राप्त होता है।

    एक बार जब लघु उद्योग चल जाता है तो यह बाद में बड़े उद्योग में भी तब्दील हो जाता है। इंडिया में ऐसे कई लोग है, जिन्होंने अपने बिजनेस की शुरुआत लघु उद्योग के तौर पर ही की थी और आगे चलकर उन्होंने अपने बिजनेस को काफी बड़ा कर लिया था।

    इंडियन गवर्नमेंट की लघु उद्योग से संबंधित स्कीम क्या है?

    अनेक प्रकार के लघु उद्योग की स्कीम इंडियन गवर्नमेंट चला रही है, जिसके तहत ऐसे लोगों को लोन, सब्सिडी या फिर अन्य प्रकार के फायदे प्रदान किए जाने का प्रावधान है, जो लघु उद्योग स्टार्ट करना चाहते हैं।

    विभिन्न प्रकार की योजनाएं इंडियन गवर्नमेंट लघु उद्योग के तहत चला रही है, जिनके नाम निम्नानुसार है।

    • प्रधानमंत्री मुद्रा योजना
    • प्रधानमंत्री रोजगार योजना
    • क्रेडिट लिंक कैपिटल सब्सिडी स्कीम,
    • एमएसएमई
    • प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम और लघु उद्योग क्रेडिट कार्ड योजना

    लघु उद्योग स्टार्ट करने के लिए लोन कैसे प्राप्त होता है?

    गवर्नमेंट के द्वारा योजना के तहत अलग अलग प्रकार के उद्योगों को स्टार्ट करने के लिए अलग-अलग अमाउंट के लोन दिए जाते हैं।

    • जो लोग छोटा उद्योग स्टार्ट करना चाहते हैं उन्हें सरकार कम से कम ₹1 करोड़ और अधिक से अधिक दो करोड़ रुपए तक का लोन देती है।
    • जो लोग मीडियम साइज का उद्योग स्टार्ट करना चाहते हैं उन्हें सरकार कम से कम 25 लाख और अधिक से अधिक 5 करोड रुपए तक का लोन दे सकती है।
    • जो लोग बड़े साइज का बिजनेस स्टार्ट करना चाहते हैं उन्हें सरकार बिजनेस को स्टार्ट करने के लिए कम से कम 10 करोड़ और अधिक से अधिक ₹25 करोड़ तक का लोन दे सकती है।

    लघु उद्योग स्टार्ट करने के फायदे क्या है?

    ऐसे लोगों के लिए लघु उद्योग बहुत ही बेहतरीन साबित होता है, जो कोई व्यवसाय स्टार्ट करना चाहते हैं, क्योंकि यह कम इन्वेस्टमेंट में आसानी के साथ स्टार्ट किया जा सकता है।

    कोई भी व्यक्ति अपनी एलिजिबिलिटी के अनुसार फंड लगाकर लघु उद्योग को स्टार्ट कर सकता है। इंडियन गवर्नमेंट लघु उद्योग को स्टार्ट करने वालों को अपनी तरफ से सब्सिडी देने का काम भी करती है। बेरोजगारों को लघु उद्योग के जरिए रोजगार के अवसर प्राप्त होते हैं और सबसे मुख्य बात जो कि लघु उद्योग के कारण ही लोगों को कम दाम पर कई वस्तुएं प्राप्त होती है। लघु उद्योग ग्रामीण इलाकों में काफी अच्छा फलता फूलता है।

    सपोर्ट स्माल बिजनेस क्या है?

    इंडिया में सपोर्ट स्मॉल बिजनेस Trend में चल रहा है। युवाओं को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी कि वोकल टू लोकल को बढ़ावा देने वाली यह स्कीम बहुत ही ज्यादा पसंद आ रही है। सपोर्ट स्मॉल बिजनेस का मतलब होता है ऐसा बिजनेस जिसे कम इन्वेस्टमेंट करके कम लोगों के द्वारा स्टार्ट किया जाता है।

    इंडिया में ऐसे कई सेलिब्रिटी भी है जो वर्तमान के समय में छोटे बिजनेस को प्रोत्साहन दे रहे हैं।छोटे लेवल में लोग अपना बिजनेस स्टार्ट करते हैं जिसमें वह गवर्नमेंट की आर्थिक सहायता लेते हैं,इसके बाद प्रमोशन करवाने के लिए वह बड़े-बड़े सेलिब्रिटी को चुनते हैं।

    हमारी भारतीय गवर्नमेंट की इस कोशिश के द्वारा लोग सरलता के साथ लघु उद्योग और मध्यम वर्गीय उद्योगों को स्टार्ट करने के लिए लोन प्राप्त कर सकते हैं और अपने पैरों पर खड़ा हो कर के खुद का बिजनेस स्टार्ट कर सकते हैं। गवर्नमेंट यह चाहती है कि ज्यादा से ज्यादा लोग उद्धमिता को बढ़ावा दें और नए लोगों को भी अपने बिजनेस के जरिए नौकरी प्रदान करने का काम करें।

    प्रधानमंत्री लघु उद्योग योजना आधिकारिक वेबसाइट

    हाल ही में लॉन्च होने के कारण इस योजना के लिए अभी तक कोई भी अधिकारीक वेबसाइट लॉन्च नहीं की गई है। जैसे ही कोई भी वेबसाइट लांच की जाती है वैसे ही इस आर्टिकल में उस जानकारी को अपडेट कर दिया जाएगा।

    प्रधानमंत्री लघु उद्योग योजना हेल्पलाइन नंबर

    इस योजना को हाल ही में लांच किया गया है‌ इसीलिए अभी तक इस योजना के लिए कोई भी हेल्पलाइन अथवा टोल फ्री नंबर जारी नहीं किया गया है। जैसे ही कोई भी टोल फ्री नंबर जारी होता है,वैसे ही हम उस जानकारी को इस आर्टिकल में अपडेट कर देंगे।

    FAQ

    Q : पीएम लघु उद्योग के तहत कितना लोन मिल सकता है ?

    Ans : 10 – 25 लाख तक का लोन इस योजना के अंतर्गत मिल सकता है।

    Q : पीएम लघु उद्योग योजना का उद्देश्य क्या है?

    Ans : इस योजना का उद्देश्य ऐसे आवश्यक मंद लोगों को उनकी आवश्यकता के हिसाब से लोन लेना है,जो अपना खुद का कोई बिजनेस स्टार्ट करना चाहते हैं।

    Q : पीएम लघु उद्योग योजना को किसने लांच किया है?

    Ans : इस योजना को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के आदेश पर सेंट्रल गवर्नमेंट में लॉन्च किया है।

    Q : पीएम लघु उद्योग योजना को कब लांच किया गया?

    Ans : साल 2021

    अन्य पढ़ें –

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here