प्रियदर्शनी इंदिरा गांधी महिला सशक्तिकरण योजना राजस्थान 2021

    प्रियदर्शनी इंदिरा गांधी महिला सशक्तिकरण योजना राजस्थान 2021 (Priydarshini Indira Gandhi Mahila Sashaktikaran Yojana Rajasthan (IM Shakti Yojana) in Hindi) सब्सिडी, ऑनलाइन आवेदन, लाभार्थी, महिलाएं, पात्रता, दस्तावेज, अधिकारिक वेबसाइट, टोल फ्री नंबर

    देश में महिलाओं की स्थिति को बेहतर बनाने के लिए न सिर्फ आज समाज में लोगों को जागरूक कर महिलाओं को आगे बढ़ने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है बल्कि महिलाओं को आर्थिक रूप से सशक्त बनने के लिए कई योजनाएं भी जारी की जा रही है। इसी दिशा में राजस्थान सरकार द्वारा प्रियदर्शनी इंदिरा गांधी महिला सशक्तिकरण योजना की शुरुआत की गई है। इस योजना का लाभ अधिक से अधिक लोगों को मिले और उन्हें पर्याप्त जानकारी मिले, इस लेख में हम आपको इस योजना की संपूर्ण जानकारी लेकर आएं हैं।

    Priydarshini Indira Gandhi Mahila Sashaktikaran Yojana Rajasthan 2021

    योजना का पूरा नामप्रियदर्शनी इंदिरा गांधी महिला सशक्तिकरण योजना
    योजना का दूसरा नामआईएम शक्ति योजना
    योजना जारी करने की तिथिदिसंबर 18, 2019
    योजना जारी करने वाले व्यक्ति का नाममुख्यमंत्री अशोक गहलोत
    लाभार्थी राज्यराजस्थान
    लाभार्थीआर्थिक स्थिति से कमजोर महिलाएं
    उद्देश्यगरीब महिलाओं को आर्थिक सहायता प्रदान करना
    योजना का बजट1000 करोड़ रुपए

    प्रियदर्शनी इंदिरा गांधी महिला सशक्तिकरण योजना क्या है ?

    प्रियदर्शनी इंदिरा गांधी महिला सशक्तिकरण योजना राजस्थान के कांग्रेस सरकार द्वारा जारी की गयी नवीनतम योजना है। इस योजना के अंतर्गत राजस्थान की गरीब महिलाओं के आर्थिक स्थिति को सुदृढ़ करने का प्रयास किया जाएगा। ‌

    जैसा की आपको ज्ञात होगा राजस्थान राज्य में कांग्रेस सरकार के 1 साल पूरे हो जाने के बाद कांग्रेस सरकार ने कई सारी योजनाएं लागू की थी और योजना उन्हीं में से एक है। प्रियदर्शनी इंदिरा गांधी महिला सशक्तिकरण योजना राज्य के पीड़ित महिलाओं को पुनर्वास कराने में सहायता करेगी। ‌

    प्रियदर्शनी इंदिरा गांधी महिला सशक्तिकरण योजना को 18 दिसंबर 2019 दुर्गावती अनुसंधान केंद्र में आयोजित एक समारोह के दौरान लागू किया गया था।

    सरकार ने योजना जारी करते समय यह बात कही थी कि इस योजना के तहत गरीब महिलाओं की मदद के लिए 200 करोड रुपए खर्च किए जाएंगे साथ ही इसका टोटल बजट 1000 करोड़ का निश्चित किया गया है।

    प्रियदर्शनी इंदिरा गांधी महिला सशक्तिकरण योजना का उद्देश्य

    प्रियदर्शनी इंदिरा गांधी महिला सशक्तिकरण योजना का उद्देश्य महिलाओं को‌ सशक्त और आर्थिक दृष्टि से आत्मनिर्भर बनाना है। इस योजना के अंतर्गत सरकार महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए उन्हें प्रशिक्षण, शिक्षा और अन्य कौशल सीखने के अवसर प्रदान करेंगी।

    प्रियदर्शनी इंदिरा गांधी महिला सशक्तिकरण योजना लाभ

    राजस्थान की गरीब महिलाओं को अब आर्थिक समस्याओं से जूझना नहीं होगा क्योंकि सरकार उनके लिए एक नया अवसर लेकर आई हैं। इस योजना के अंतर्गत राज्य के गरीब महिलाओं को यह सभी लाभ प्राप्त होंगे –

    सात अलग तरह के लाभ प्राप्त होंगे

    इस योजना के अंतर्गत राज्य के गरीब महिलाओं को 7 अलग-अलग तरह से लाभ प्राप्त होंगे।‌ इन लाभों को प्राप्त करके वे आत्मनिर्भर होकर अपनी जिंदगी जी सकते हैं।

    रोजगार के अवसर प्रदान किए जाएंगे

    प्रियदर्शनी इंदिरा गांधी महिला सशक्तिकरण योजना के अंतर्गत गरीब महिलाओं को आर्थिक सुविधा देने के लिए सरकार ने रोजगार के अवसर बनाएगी ताकि महिलाएं स्वयं काम करके पैसे कमा सके।

    महिलाओं को शिक्षा के प्रति जागरूक करना

     इस योजना के तहत महिलाओं को केवल आर्थिक सहायता या फिर रोजगार ही नहीं दिया जाएगा बल्कि लड़कियों के पढ़ाई पर भी विशेष जोड़ दिया जाएगा।

    महिलाओं को अलगअलग स्किल्स सिखाए जाएंगे

    यह योजना दूसरे अन्य योजनाओं से अलग है क्योंकि इस योजना के अंतर्गत ना सिर्फ केवल महिलाओं को पैसे से मदद किया जाएगा बल्कि उन्हें सिलाई, कढ़ाई, बुनाई, ब्यूटी पार्लर जैसे स्किल्स दिखा कर आत्मनिर्भर बनाने की कोशिश की जाएगी।

    कंप्यूटर सिखाया जाएगा

     घरेलू व कुटीर उद्योग जैसे कला सिखाने के साथ-साथ सरकार इस बार गरीब महिलाओं और उनके बच्चियों को कंप्यूटर भी सिखाएगी। जिससे वह अच्छी नौकरी कर पाएंगे।

    सामूहिक विवाह को प्रोत्साहन देना

    अक्सर देखा जाता है कि जब भी किसी की शादी होती है तो लोग पानी की तरह पैसा बहाते हैं। गरीबों के लिए ऐसा करना बहुत महंगा पड़ जाता है इसीलिए सरकार सामूहिक विवाह को भी बढ़ावा दे रही है ताकि गरीब शादी में ज्यादा खर्च ना करें।

    महिलाओं का इलाज

    राजस्थान राज्य में रहने वाली गरीब महिलाएं जो किसी गंभीर बीमारी से पीड़ित है और मृत्यु के कगार में है उन महिलाओं का इलाज करा कर फिर से उन्हें जीवन दान देने का प्रयत्न किया जाएगा।

    नवजात बच्चियों को बच्चों की सामग्री दी जाएगी

    राजस्थान के छोटे-छोटे गाँवों में आज भी भ्रूण हत्या जैसा महापाप पता है गरीब लोग जिनके पास खाने के लिए पैसे नहीं है! जब उनके घर बेटी जन्म लेती है तब उन्हें मार देते हैं। इसीलिए सरकार ने भ्रूण हत्या को रोकने के लिए नवजात बच्चियों को बेबी किट दिया जाएगा।

    प्रियदर्शनी इंदिरा गांधी महिला सशक्तिकरण योजना में आवेदन कैसे करें ?

    प्रियदर्शनी इंदिरा गांधी महिला सशक्तिकरण योजना में आवेदन करने की अभी कोई सुविधा प्रदान नहीं की गई है। लेकिन जब यह सुविधा दे दी जाएगी तब हम आपके लिए आवेदन करने का पूरा तरीका बता देंगे। इसलिए इस पोस्ट को सेव करके रख लीजिए। सेव करने के लिए आप अपने ब्राउज़र में बुकमार्क लगा सकते हैं। ताकि आप जब चाहे तब इस योजना का आवेदन प्रक्रिया जान सके।

    FAQ

    Q. प्रियदर्शनी इंदिरा गांधी महिला सशक्तिकरण योजना को किसने लागू किया ?

    राजस्थान राज्य के मुख्यमंत्री ने  प्रियदर्शनी इंदिरा गांधी महिला सशक्तिकरण योजना को लागू किया है।

    Q. प्रियदर्शनी इंदिरा गांधी महिला सशक्तिकरण योजना कब लागू हुई ?

    इस योजना को 18 दिसंबर 2019 में लागू किया गया था।

    Q. इस योजना के अंतर्गत कौन से राज्य लाभान्वित होंगे ?

    इस योजना के अंतर्गत राजस्थान राज्य की महिलाओं को लाभ मिलेगा।

    Q. इस योजना का लाभ किसे मिलेगा ?

    इस योजना का लाभ राज्य की गरीब महिलाओं को दिया जाएगा।

    अन्य पढ़ें –

    प्रियदर्शनी इंदिरा गांधी महिला सशक्तिकरण योजना

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here