राजस्थान अपना खाता भू-अभिलेख खसरा 2021 (Rajasthan Apna Khata Revenue Record in Hindi)

    राजस्थान अपना खाता भू-अभिलेख खसरा 2021, नक़ल कैसे देखें, नंबर, कैसे चेक करें, नक़ल, जमाबंदी (Rajasthan Apna Khata Revenue Record in Hindi) (Revenue Record, App Download, Website, Online Portal, Nakal, Jamabandi, Khasara)

    डिजिटल इंडिया मिशन के अंतर्गत आज देश में विभिन्न गतिविधियां ऑनलाइन हो चुकी है, जिससे न सिर्फ समय की बचत हुई है बल्कि लोगों के लिए भी सुविधा हो रही है। राजस्थान सरकार द्वारा जारी किया गया अभिलेख खसरा पोर्टल भी इसी दिशा में उठाया गया एक कदम है। यह पोर्टल लोगों के लिए जमीन संबंधी जानकारियों को तुरंत और आसानी से प्राप्त करने के लिए किया गया एक प्रयास है। आज हम आपको इस लेख में राजस्थान अपना खाता भू अभिलेख की पूर्ण जानकारी सरल शब्दों में देने जा रहे हैं।

    rajasthan apna khata in hindi

    राजस्थान अपना खाता भू-अभिलेख खसरा 2021

    पूरा नामराजस्थान अपना खाता ऑनलाइन सेवा
    कहां लांच हुआराजस्थान में
    कब लांच हुआसाल 2017 में
    किसने लांच कियाराज्य सरकार द्वारा
    लाभार्थीराजस्थान के स्थाई निवासी
    वेबसाइट का नामapnakhata.raj.nic.in
    टोल फ्री नंबरनहीं है

    राजस्थान अपना खाता भू-अभिलेख खसरा क्या है

    राजस्थान अपना खाता भू अभिलेख खसरा राजस्थान सरकार द्वारा जारी किया गया एक नया प्रयत्न है, इसके अंतर्गत सरकार ने एक पोर्टल जारी किया है। इस पोर्टल के अंतर्गत लोगों को ऑनलाइन सुविधा के तहत राजस्थान में स्थित जमीनों की जानकारी दी जाएगी। मतलब यह है कि इस पोर्टल का उपयोग करके लोग राजस्थान के किसी भी जमीन का पता ऑनलाइन लगा सकते हैं। यह एक ऐसा पोर्टल है जहां पर जमीन का पूरा ब्यौरा किया जा सकता है। केवल भूमि का नंबर डालकर आप इस पोर्टल से भूमि का पूरा रिकॉर्ड देख सकते हैं। भूमि का ब्यौरा करने के लिए कई बार लोगों को अपना बहुत सा समय बर्बाद करना पड़ता है इस चीज को ध्यान में रखते हुए सरकार ने इस पोर्टल को बनाया है, ताकि लोगों का समय बच सके और उन्हें सभी जानकारी एक ही जगह पर प्राप्त हो जाए।

    राजस्थान अपना खाता में आवेदन कैसे करें

    अगर आप अपने भूमि का रजिस्ट्रेशन इस पोर्टल में करना चाहते हैं या यूं कहें कि अगर आप राजस्थान अपना खाता में आवेदन करना चाहते हैं, तो आप निम्न स्टेप्स को फॉलो करें –

    • राजस्थान अपना खाता में आवेदन करने के लिए आपको सबसे पहले दिए गए लिंक पर क्लिक करके वेबसाइट पर जाना है।
    • वेबसाइट पर जाने के बाद होम पेज पर आपको राजस्थान राज्य का पूरा नक्शा दिखाई देगा। इस नक्शे में राजस्थान राज्य के सभी जिलों की जानकारी दी जाएगी।
    • अब आप नक्शे में उस जिले पर क्लिक कीजिए जहां पर आप रहते हैं।
    • जब आप उस जिले पर क्लिक करेंगे, तब आपके सामने कुछ ऑप्शन खुल कर आएंगे जिसमें आपको अपना जिला और तहसील का नाम चुनना होगा।
    • इसके बाद आप एक नए पेज पर पहुंचेंगे। इस पेज पर आपको अपना जमाबंदी वर्ष चुनना है।
    • सभी विकल्पों को चुन लेने के बाद अंत में आपको अपना गांव चुनना है। आप दिए गए ड्रॉप डाउन बटन में से अपना गांव चुन सकते हैं या फिर अपने गांव का नाम टाइप करके भी गांव चुन सकते हैं। जैसे भी हो आप अपने गांव का नाम चुन लीजिए।
    • इसके बाद नए पेज पर आपको खाता या खसरा का चयन करने का विकल्प आएगा तो आप उसे चुन लीजिए।
    • आखरी पेज पर आपको ‘नक़ल प्राप्त करें’ का एक विकल्प दिखाई देगा तो आप उस पर क्लिक कीजिए। इसके बाद एक नया पेज ओपन होगा और इस पेज में आपको जमाबंदी की सही कॉपी प्रदान की जाएगी।
    • इस कॉपी में आपको जमीन की पूरी जानकारी मिल जाएगी। आप इस कॉपी को सेव करके इसका प्रिंट आउट ले सकते हैं।

    इस तरह से बस कुछ टिप्स को फॉलो करके आप आसानी से राजस्थान अपना खाता में आवेदन कर सकते हैं, और अपने भूमि का रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन कर सकते हैं।

    राजस्थान अपना खाता भू-अभिलेख खसरा विशेषतायें / लाभ

    राजस्थान सरकार द्वारा उठाए गए इस कदम से लोगों को अनेक प्रकार के लाभ प्राप्त होंगे –

    डिजिटलीकरण की शुरुआत –

    इस पोर्टल की शुरूआत भूमि राजस्व अधिनियम के अंतर्गत राज्य सरकार द्वारा की गई थी। जिसके बाद अब राजस्थान का कोई भी नागरिक घर बैठे ही जमीन का विवरण कर सकता है।

    समय का बचाव –

    इस पोर्टल के लांच होने से पहले राजस्थान के जमीन का विवरण लेने के लिए नागरिकों को पटवारी के पास जाना होता था, और समय खर्चीली प्रक्रिया पूरी करनी पड़ती थी। लेकिन अब लोग अपने मोबाइल से ही भूमि के बारे में पता लगा सकते हैं जिससे उनका समय काफी बच सकता है।

    भ्रष्टाचार में कमी –

    इस पोर्टल को जारी करने के बाद सरकार यह उम्मीद कह रही है कि भ्रष्टाचार में भी कमी आएगी, क्योंकि इस पोर्टल के जारी होने पर लोगों की जमीन की जानकारी एक ही जगह पर होगी. जिससे सरकार भी इनके बारे में जान पाएंगे।

    डिजिटल भारत –

    इस पहल के बाद राजस्थान सरकार ने अपने राज्य को डिजिटलकरण की ओर बढ़ावा दिया है। भूमि के रिकॉर्ड्स को ऑनलाइन मोड में लाने के बाद राजस्थान सरकार ने भी डिजिटल इंडिया की ओर कदम बढ़ा दिया है।

    इस पोर्टल के जारी हो जाने के बाद अब राजस्थान में रहने वाला कोई भी नागरिक बिना किसी भागदौड़ के आसानी से भूमि का पूरा विवरण निकाल सकता है।

    राजस्थान अपना खाता भू-अभिलेख खसरा हेल्पलाइन नंबर

    राजस्थान अपना खाता भू अभिलेख खसरा के अंतर्गत लोगों को किसी भी तरह की कोई परेशानी ना हो इस बात की पुष्टि करने के लिए सरकार ने हेल्प सेंटर की भी व्यवस्था की है।

    • अपनी परेशानी सरकार तक पहुंचाने के लिए आप दिए गए लिं पर क्लिक करके सीधे सरकारी अधिकारी से बातचीत कर सकते हैं।
    • इस पोर्टल का पूरा जायजा लेने के बाद आप चाहे तो इस पोर्टल के ऊपर अपना फीडबैक भी दे सकते हैं फीडबैक देने के लिए आपको इस लिंक पर क्लिक करना होगा।
    • इस तरह से आप चाहे तो अपनी परेशानी या फिर अपना सुझाव सरकार तक सीधे पहुंचा सकते हैं।

    FAQ

    Q : राजस्थान अपना खाता कब जारी हुआ था ?

    Ans : राजस्थान अपना खाता साल 2017 में जारी हुआ था।

    Q : राजस्थान अपना खाता नकल को किसने लागू किया ?

    Ans : राजस्थान अपना खाता नकल को राजस्थान सरकार ने लागू किया था।

    Q : राजस्थान जमीन का खसरा के वेबसाइट क्या है ?

    Ans : राजस्थान जमीन खसरा की वेबसाइट apnakhata.raj.nic.in है।

    Q : राजस्थान अपना खाता में आवेदन करने के लिए क्या करें ?

    Ans : ऑनलाइन वेबसाइट में जाकर आवेदन करें

    Q : क्या राजस्थान अपना खाता में आवेदन में परेशानी होने पर उसे हल करने के लिए कोई टोल फ्री नंबर है ?

    Ans : इसके लिए हेल्प सेंटर की व्यवस्था की गई जहाँ पर जाकर आप अपनी परेशानी का हल निकाल सकते हैं.

    अन्य पढ़ें –

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here