राजस्थान दलित आदिवासी उद्यम प्रोत्साहन योजना 2022, (Rajasthan Dalit Aadivasi Udyam Protsahan Yojana in Hindi)

राजस्थान दलित आदिवासी उद्यम प्रोत्साहन योजना 2022, ऑनलाइन आवेदन, रजिस्ट्रेशन, पात्रता, दस्तावेज, अधिकारिक वेबसाइट, हेल्पलाइन नंबर (Rajasthan Dalit Aadiwasi Udyam Protsahan Yojana in Hindi) (Online Apply, Registration, Eligibility, Documents, Official Website, Helpline)

राजस्थान सरकार द्वारा हाल ही में कई योजनाओं की घोषणा की गई हैं। ये योजनाएं सामाजिक दृष्टिकोण से बहुत लाभकारी हैं। इन्ही योजनाओं में से एक है राजस्थान दलित आदिवासी उद्यम प्रोत्साहन योजना। इसके अंतर्गत वंचित वर्गो के लिए उद्यम स्थापित करने और  इनक्यूबेशन कम ट्रेनिंग सेंटर एस्टेब्लिश करने की पहल की जाएगी। राजस्थान दलित आदिवासी उद्यम प्रोत्साहन योजना जैसी महत्वाकांक्षी योजना के लिए राज्य सरकार सौ करोड़ रूपये की बड़ी राशि खर्च करने जा रही है। तो आइए इस आर्टिकल के माध्यम से एक नज़र दौड़ाते हैं राजस्थान दलित आदिवासी उद्यम प्रोत्साहन योजना से जुड़े मुद्दों पर।

राजस्थान दलित उद्यम प्रोत्साहन योजना (Rajasthan Dalit Aadivasi Udyam Protsahan Yojana in Hindi)

योजनाराजस्थान दलित आदिवासी उद्यम प्रोत्साहन योजना
किसने की घोषणामुख्यमंत्री जी ने
घोषणा मुख्यमंत्री द्वारा 2022-23 का बजट पेश करते हुए
लाभार्थीराजस्थान दलित आदिवासी
वेबसाइटअभी साझा नहीं की गई है।

राजस्थान दलित आदिवासी उद्यम प्रोत्साहन योजना क्या है (What is the Scheme)

राजस्थान दलित आदिवासी उद्यम प्रोत्साहन योजना राजस्थान सरकार द्वारा घोषित एक योजना है जिसका मकसद वंचित वर्गो के लिए उद्यम स्थापित करने और  इनक्यूबेशन कम ट्रेनिंग सेंटर एस्टेब्लिश करना है। इस पहल के लिए सौ करोड़ रुपए की एक बड़ी रकम खर्च की जाएगी। एससी/एसटी समुदाय से जुड़े लोगों को ट्रेनिंग दी जाएगी। इसका संचालन CII/DICCI के सहयोग से किया जाएगा। एससी/एसटी समुदाय से जुड़े लोगों को ट्रेनिंग देने से उनमें उद्यम को ले कर आत्मविश्वास और बढ़ेगा जिससे वो अपने पैरों पर खड़े हो पाएंगे। इस तरह की पहल एससी/एसटी समुदाय से जुड़े लोगों में निवेश आदि से जुड़ा ज्ञान बढ़ा पाएगी। आपको बता दे कि इस योजना के तहत इनको इंडस्ट्री शुरू करने के लिए सब्सिडी मिलेगी जो कि 25 लाख रूपये की होगी।

राजस्थान दलित आदिवासी उद्यम प्रोत्साहन योजना विशेषता (Features)

  • राजस्थान दलित आदिवासी उद्यम प्रोत्साहन योजना का उद्देश्य वंचित वर्गो के लिए उद्यम स्थापित करने और  इनक्यूबेशन कम ट्रेनिंग सेंटर एस्टेब्लिश करना है।
  • इस योजना की घोषणा स्वयं राजस्थान राज्य के मुख्य मंत्री द्वारा की गई है।
  • इस योजना के अंतर्गत वंचित लोगों को इंडस्ट्री शुरू करने के लिए सब्सिडी मिलेगी जो कि पच्चीस लाख रूपये की होगी।
  • एससी/एसटी समुदाय से जुड़े लोगों को ट्रेनिंग दी जाएगी। इसका संचालन CII/DICCI के सहयोग से किया जाएगा। इस पहल से वंचित लोगो में निवेश और आत्मनिर्भरता से जुड़ा ज्ञान व्यापक होगा।
  • सौ करोड़ रुपए की बड़ी राशि को खर्च किया जाएगा ताकि ट्रेनिंग आदि की सुविधा दी जा सके।

राजस्थान दलित आदिवासी उद्यम प्रोत्साहन योजना लाभार्थी (Beneficiaries)

राजस्थान के मूल निवासी जो कि एससी/ एसटी समुदाय के वंचित लोग हैं, उन्हे राजस्थान दलित आदिवासी उद्यम प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत लाभान्वित किया जाएगा।

राजस्थान दलित आदिवासी उद्यम प्रोत्साहन योजना ऑफिशियल वेबसाइट (Official Website)

राजस्थान दलित आदिवासी उद्यम प्रोत्साहन योजना से संबंधित घोषणा हाल में ही की गई है इसलिए अभी वेबसाइट से जुड़ा काम प्रगति में है। उम्मीद है सरकार जल्द ही इस से जुड़ी खबर साझा करेगी।

FAQ

Q : राजस्थान दलित आदिवासी उद्यम प्रोत्साहन योजना की घोषणा किसने की?

Ans : मुख्यमंत्री

Q : राजस्थान दलित आदिवासी उद्यम प्रोत्साहन योजना किसे लाभ देगी?

Ans : एससी/ एसटी के लोगो को

Q : राजस्थान दलित आदिवासी उद्यम प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत कितने रुपए की सब्सिडी है?

Ans : 25 लाख

Q : राजस्थान दलित आदिवासी उद्यम प्रोत्साहन योजना की ऑफिशियल वेबसाइट बताएं।

Ans : अभी नहीं है।

Q : राजस्थान दलित आदिवासी उद्यम प्रोत्साहन योजना के लिए क्या कोई टोल फ्री नंबर है?

Ans : अभी नहीं है।

अन्य पढ़ें –

Leave a Comment