राजस्थान ग्रामीण पर्यटन प्रोत्साहन योजना 2021 (Rajasthan Gramin Paryatan Protsahan Yojana)

राजस्थान ग्रामीण पर्यटन प्रोत्साहन योजना 2021, नीति क्या है, विभाग, प्रतीक (Rajasthan Gramin Paryatan Protsahan Yojana)

राजस्थान राज्य सरकार ने ग्रामीण क्षेत्र के विकास के लिए एक विशेष राजस्थान ग्रामीण पर्यटन प्रोत्साहन योजना की घोषणा की है. इस योजना के द्वारा ग्रामीण क्षेत्र में पर्यटन को बढ़ावा दिया जाएगा। पर्यटन नीति 2020-21 में ग्रामीण क्षेत्र में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए विशेष कार्य किए जा रहे हैं. इस योजना से समस्त ग्रामीण क्षेत्र का विकास होगा साथ ही रोजगार के नए अवसर स्थानीय लोगों को मिलेंगे. चलिए जानते हैं कि योजना क्या है इसकी विशेषताएं उद्देश्य विकास से जुड़ी हुई सभी जानकारी।

rajasthan gramin paryatan protsahan yojana in hindi

Table of Contents

राजस्थान ग्रामीण पर्यटन प्रोत्साहन योजना 2021 (Rajasthan Gramin Paryatan Protsahan Yojana)

नामग्रामीण पर्यटन प्रोत्साहन योजना
कहाँ लांच हुईराजस्थान
कब लांच हुईसितम्बर 2021
विभागपर्यटन विभाग
आधिकारिक साईटअभी नहीं
हेल्पलाइन नंबरअभी नहीं

राजस्थान ग्रामीण पर्यटन प्रोत्साहन योजना क्या है (What is Gramin Paryatan Protsahan Yojana)

योजना से जुड़े अधिकारियों ने बताया है कि गांव में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए इस विशेष योजना को शुरू किया गया है. इसके लिए एक एडवाइजरी भी जारी कर दी गई है। ग्रामीण क्षेत्र में पर्यटन से जुड़े हुए नए नए विकास किए जाएंगे. पर्यटकों को के लिए अस्थाई आवास स्थान होटल, भोजन की सुविधा आदि से जुड़ी सुविधा का निर्माण किया जाएगा।

राजस्थान ग्रामीण पर्यटन प्रोत्साहन योजना उद्देश्य (Objective)

इस योजना का मुख्य उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्र में पर्यटन को आगे बढ़ाना है. जिस तरह से शहरों में पर्यटन के द्वारा पर्यटक आकर्षित होते हैं, उसी तरह ग्रामीण क्षेत्र में भी पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए इस योजना की शुरुआत की गई है. इसके द्वारा गांव का विकास होगा साथ ही स्थानीय लोगों को रोजगार के नए नए अवसर मिलेंगे। इस योजना के द्वारा ग्रामीण क्षेत्र में निवेश एवं रोजगार को बढ़ावा मिलेगा साथ ही स्थानीय हस्तशिल्प और हस्तकरधा वाले लोगों के उत्पाद का संरक्षण होगा।

राजस्थान ग्रामीण पर्यटन प्रोत्साहन योजना विशेषताएं (Features)

  • ग्रामीण क्षेत्र में पर्यटन पर मुख्य फोकस किया जा रहा है जिससे वहां रहने वाले स्थानीय हस्तकला, दस्तकार्यों, नृत्य संगीत आदि से जुड़े हुए लोगों को रोजगार के नए अवसर मिलेंगे।
  • इस योजना के अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्र में 4 यूनिट्स का निर्माण किया जाएगा. जिसमें गेस्ट हाउस कृषि पर्यटन इकाई कैंपिंग साइट तथा कैरावन पार्क बनाए जाएंगे। 
  • गेस्ट हाउस – इस योजना के अंतर्गत गांव में 6 से 20 कमरों का अस्थाई आवास बनाया जाएगा, जिससे पर्यटकों को रोकने की सुविधा मिल सके. इसके साथ ही यहां भोजन की भी पूरी सुविधा होगी। अधिकारियों ने बताया कि इन गेस्ट हाउस पर आवास मालिक या फिर मैनेजर के परिवार के रहने की भी सुविधा होगी। इन गेस्ट हाउस में अधिकतम 40 बेड की अनुमति होगी कम से कम 6 लोगों को एवं अधिक से अधिक 15 लोगों को रुकने की अनुमति होगी। 
  • कृषि पर्यटन इकाई – कृषि पर्यटन इकाई के तहत व्यवसाय एवं औद्योगिक भूमि कम से कम 2 हेक्टेयर क्षेत्रफल पर बनाई जाएगी। जिसमें से सिर्फ 20% पर ही निर्माण कार्य किया जा सकेगा, बाकी के 80% क्षेत्र में गौशाला ऊंट घोड़ा का फॉर्म, कृषि उत्पादन आदि के लिए ही उपयोग किया जा सकेगा। 
  • कैंपिंग साइट – कैंपिंग साइट की न्यूज़ सरकार द्वारा दर्शाए एवं औद्योगिक भूमि दी जाएगी जिसका न्यूनतम क्षेत्रफल 1 हेक्टेयर होगा यहां पर सिर्फ 10% पर ही निर्माण किया जा सकेगा बाकी के क्षेत्र में  बगीचा, उंट घोडा फार्म, पशुधन निर्माण किया जा सकेगा। 
  • कैरावन पार्क – पर्यटकों की सुविधा के लिए पार्किंग एरिया भी बनाया जाएगा. यहां पर मोबाइल बैन को पार्क करने की सुविधा होगी. इसके लिए 1 हेक्टेयर की भूमि सुनिश्चित की गई है। पर्यटकों को ध्यान में रखते हुए इस सुविधा को बनाया जाएगा। 
  • यहां टूरिज्म यूनिट क्षेत्र में 10 फीट चौड़ी सड़क बनाना अनिवार्य होगा। 

पर्यटकों को मिलने वाली सुविधाएं

  • पानी एवं विद्युत की नियमित आपूर्ति
  • परिसर में साफ-सफाई 
  • पार्किंग की सुविधा 
  • पर्यटन स्थल पर फायर फाइटिंग सिस्टम
  • विदेशी पर्यटकों का रिकॉर्ड रखा जाएगा
  • रिसेप्शन पर पुलिस अस्पताल मालिक का नंबर

राजस्थानी ग्रामीण पर्यटन प्रोत्साहन योजना आधिकारिक साइट (Official Website)

राज्य सरकार ने अभी इस योजना की घोषणा की है योजना से जुड़ी अन्य जानकारी अभी आधिकारिक तौर पर नहीं जारी की गई है जैसे ही यह जानकारी आएगी हमारी इस लेख पर अपडेट कर दी जाएगी। 

राजस्थानी ग्रामीण पर्यटन प्रोत्साहन योजना हेल्पलाइन नंबर (Helpline Number)

इस योजना की जानकरी प्राप्त करने के लिए हेल्पलाइन नंबर भी जल्द ही राजस्थान सरकार द्वारा  जारी किया जायेगा. इसके लिए आपको थोड़ा सा सबर करना होगा.

राजस्थान सरकार द्वारा शुरू की गई इस योजना से राज्य के संपूर्ण ग्राम का विकास होगा. देश के विकास के लिए गांव का विकास बहुत जरूरी है. पर्यटकों को ग्रामीण क्षेत्र में आने के लिए इस तरह की योजना से प्रोत्साहन मिलेगा. जिससे ग्रामीण क्षेत्र के हस्तशिल्प कारीगर वहां की संस्कृति को बढ़ावा मिलेगा। 

FAQ 

Q : ग्रामीण पर्यटन प्रोत्साहन स्कीम किसने लांच की है?

Ans : राजस्थान सरकार

Q : राजस्थान ग्रामीण पर्यटन प्रोत्साहन स्कीम कब लांच हुई है?

Ans : सितंबर 2021

Q : राजस्थान ग्रामीण पर्यटन प्रोत्साहन योजना के तहत निर्माण कार्य होगा?

Ans : योजना के तहत गेस्ट हाउस कृषि पर्यटन इकाई कैंपिंग साइट एवं कैरावन पार्क बनाए जाएंगे.

Q : राजस्थान ग्रामीण पर्यटन प्रोत्साहन योजना से किसको लाभ होगा?

Ans : ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले स्थानीय नागरिक

Q : राजस्थान ग्रामीण पर्यटन प्रोत्साहन योजना का हेल्पलाइन नंबर क्या है?

Ans : अभी नहीं है।

अन्य पढ़ें –

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here