राजस्थान कामधेनु डेयरी योजना 2021, सब्सिडी, ऑनलाइन आवेदन (Rajasthan Kamdhenu Dairy Scheme in Hindi)

राजस्थान कामधेनु डेयरी योजना 2021, सब्सिडी, ऑनलाइन आवेदन, लाभार्थी, पात्रता, दस्तावेज, अधिकारिक वेबसाइट, टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर (Rajasthan Kamdhenu Dairy Scheme in Hindi) (Beneficiaries, Online Application, Subsidy, Eligibility, Documents, Official Website, Toll free Number)

राज्य के लोगों के आर्थिक उत्थान के लिए देश की विभिन्न सरकारें आए दिन नई नीतियां, योजनाएं लागू करती रहती हैं। इसी दिशा में राजस्थान सरकार द्वारा राजस्थान कामधेनु डेयरी योजना की शुरुआत की गई है। आज हम इस लेख के माध्यम से आप तक कामधेनु डेयरी योजना की संपूर्ण जानकारी सरल शब्दों में पहुंचा रहे हैं। अगर आप एक राजस्थान के नागरिक हैं तो इस योजना की पूर्ण जानकारी आपको होनी चाहिए।

kamdhenu dairy yojana rajasthan in hindi

Table of Contents

राजस्थान कामधेनु डेयरी योजना 2021

योजना का नामकामधेनु डेयरी योजना
राज्यराजस्थान
लांच तारीखसन 2020
लांच की गईसीएम अशोक गहलोत
उद्देश्यरोजगार के अवसर प्रदान करना
लाभार्थीकिसान और पशुपालक
लाभलोन और सब्सिडी का लाभ
आधिकारिक वेबसाइटयहाँ क्लिक करें
टोल फ्री नंबर0141-2742709

राजस्थान कामधेनु डेयरी योजना क्या है

राजस्थान कामधेनु डेयरी योजना राजस्थान सरकार द्वारा जारी की गई एक नवीनतम योजना है। जिसके अंतर्गत किसानों एवं पशुपालकों को डेयरी के संचालन हेतु लोन दिया जाएगा। ताकि वह आसानी से अपने डेयरी फार्म को चला सके। राजस्थान कामधेनु डेयरी योजना को लॉकडाउन के समय मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी के द्वारा शुद्ध देसी गाय के दूध के महत्व को बताते हुए जारी किया गया था। क्योंकि देश में दूध में मिलावट की समस्या बढ़ती ही जा रही है। वैसे तो यह समस्या देखने में ज्यादा बड़ी नहीं लगती है। लेकिन लोगों के लिए बेहद आवश्यक है कि वे अच्छे दूध का ही सेवन करें।

राजस्थान कामधेनु डेयरी योजना उद्देश्य

इस योजना का मुख्य उद्देश्य रोजगार का सृजन करना है ताकि पलायन को रोका जा सके और राज्य के नागरिक सशक्त बन सके। कोरोनावायरस के कारण बेरोजगारी की समस्या बहुत अधिक बढ़ गई है। परिणामस्वरूप शहर में काम करने वाले लोग अब अपने गांव में वापस आ गए हैं। जैसा कि आप जानते हैं आज भी ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले लोगों के लिए दुग्ध उत्पादन एक प्रमुख व्यवसाय है, यह कई लोगों की जीविका का आधार है अतः इस योजना के फलस्वरूप लोग लोन लेकर अपना डेयरी फॉर्म चला पाएंगे। किसान और पशुपालकों के लिए यह योजना बहुत ही ज्यादा अच्छी मानी जा रही है। साथ ही साथ इससे दूध में मिलावट की समस्या भी कम होगी और लोगों को अच्छा व स्वस्थ गाय का दूध प्राप्त होगा।

राजस्थान कामधेनु डेयरी योजना विशेषताएं  

किसानों के लिए लाभदायी :-

राजस्थान कामधेनु डेयरी योजना के अंतर्गत किसानों को केवल लोन या फिर सब्सिडी से ही लाभ प्राप्त नहीं होगा, बल्कि यह योजना अन्य दृष्टिकोण से भी किसानों के लिए लाभदायी है।

इम्यूनिटी सिस्टम बढ़ेगा :-

इस योजना के लागू हो जाने के बाद जब किसान और पशुपालन डेयरी चलाएंगे, तो लोगों को अच्छी क्वालिटी का शुद्ध दूध अच्छे दामों में प्रदान करेंगे, जिससे लोगों की इम्युनिटी सिस्टम स्ट्रांग बनी रहेगी।

महिला व युवाओं को होगा लाभ :-

 इस योजना के लागू हो जाने के बाद बेरोजगारी की समस्या में काफी गिरावट आएगी, जिससे महिलाओं और युवाओं को भी बहुत से लाभ प्राप्त होंगे।

कम इन्वेस्टमेंट में ज्यादा रिटर्न :- 

जो आवेदक अपना नाम रजिस्टर करवाएंगे, उन्हें अपने तरफ से डेयरी फार्म पर 10% इन्वेस्टमेंट ही करनी होगी, बाकी का सारा खर्च सरकार उठाएगी। इस तरह से कम इन्वेस्टमेंट से शुरू करके लोग ज्यादा लाभ प्राप्त कर पाएंगे।

सब्सिडी का लाभ :-

राजस्थान सरकार इस योजना के तहत किसानों और डेयरी चलाने वाले लोगों को 90% तक लोन देने के लिए तैयार है। अगर किसान लोन की राशि को सही समय पर चुका देता है। तो सरकार के द्वारा लोन राशि पर किसान को 30% सब्सिडी भी दी जाएगी।

पशुपालकों को होगा लाभ :-

सरकार पशुपालकों को पशुपालन करने की भी उपयुक्त विधियां बताएगी। जिसके बाद लोग सही तरह से पशुपालन भी कर पाएंगे। जिससे उनकी कमाई में भी बढ़ोतरी होगी।

राजस्थान कामधेनु डेयरी योजना पात्रता

राजस्थान कामधेनु डेयरी योजना से लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदक के पास ये पात्रता होना आवश्यक है –

  • इस योजना के अंतर्गत लाभ प्राप्त करने के लिए व्यक्ति के पास कम से कम 1 एकड़ जमीन होना आवश्यक है। ताकि वे इस जमीन पर पशुपालन सही से कर सकें।
  •  इस योजना के अंतर्गत केवल वही लोग आवेदन कर सकते हैं जिनके पास कम से कम 3 साल का पशुपालन करने का अनुभव हो, ताकि वह अच्छे से डेयरी फॉर्म को चला सके।
  • राजस्थान कामधेनु डेयरी योजना के अंतर्गत व्यक्ति को एक नस्ल की 30 गाय रखनी होगी। इस योजना के अंतर्गत लोन प्राप्त करने के बाद 6 महीने के अंदर व्यक्ति को 15 गाय लेनी होगी।
  • आवेदक को किसी भी तरह का लाभ प्राप्त करने के लिए चारे की पर्याप्त मात्रा होना जरूरी है। अगर आप गाय को अच्छा चारा खिलाएंगे तब आपको ज्यादा मात्रा में दूध प्राप्त होगा।
  • इस योजना के अंतर्गत आप तभी आवेदन कर पाएंगे जब आप की जमीन सीमा क्षेत्र से दूर होगी।

राजस्थान कामधेनु डेयरी योजना दस्तावेज

  •  इस योजना के अंतर्गत अप्लाई करने के लिए आपके पास एक वैध पता प्रमाण पत्र जरूर होना चाहिए।
  •  इस योजना के अंतर अगर आप आवेदन करना चाहते हैं तो आपको आधार कार्ड दिखाना होगा।
  •   साथ ही साथ आवेदन करने के लिए आपके पास आधार कार्ड से लिंक मोबाइल नंबर होना चाहिए।
  •  राजस्थान कामधेनु डेयरी योजना में अप्लाई करने के लिए आपके पास बैंक अकाउंट डिटेल्स भी होना चाहिए।
  •  इसके अलावा इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने के लिए व्यक्ति के पास पशुपालन का प्रमाण पत्र भी होना चाहिए तभी इस योजना के तहत वेतन प्राप्त कर पाएंगे।

राजस्थान कामधेनु डेयरी योजना में आवेदन

  •  इस योजना में आवेदन करने के लिए आपको सबसे पहले राजस्थान कामधेनु योजना के आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  •  वेबसाइट पर जाने के बाद आप आपके सामने इस वेबसाइट का होम पेज ओपन हो जाएगा।
  •  वेबसाइट में आपको एप्लीकेशन फॉर्म दिखाई देगा आप उस एप्लीकेशन फॉर्म को डाउनलोड कर लीजिए।
  • फॉर्म डाउनलोड कर लेने के बाद आप इसका प्रिंटआउट लेकर इसे अच्छे से पढ़ लीजिए और फिर पूछे गए सभी जानकारियों को भर दीजिए।
  • सही तरह से फॉर्म भरने के बाद आप एक बार फिर से फॉर्म की जांच कर लीजिए और फिर पूछे गए सभी दस्तावेजों को इस से अटैच कर दीजिए।
  •  अटैच करने के बाद आप जैसे ही इस फॉर्म को सबमिट करेंगे वैसे ही कुछ दिन बाद फॉर्म की जांच होने के बाद आपके एप्लीकेशन को एक्सेप्ट कर लिया जाएगा।

इस तरह से आप बड़ी ही आसानी से राजस्थान कामधेनु डेयरी योजना में अप्लाई कर पाएंगे।

राजस्थान कामधेनु डेयरी योजना का हेल्पलाइन नंबर क्या है ?

वैसे तो राजस्थान सरकार द्वारा जारी किए जाने वाली सभी योजनाओं में हेल्पलाइन सुविधा भी दी जाती है लेकिन अभी तक इस योजना के अंतर्गत किसी भी तरह की हेल्पलाइन सर्विस उपलब्ध नहीं करवाई गई है। यही कारण है कि इसका कोई भी हेल्पलाइन नंबर अभी तक उपलब्ध नहीं है।

FAQ

Q : राजस्थान कामधेनु डेयरी योजना की शुरुआत कब हुई ?

Ans : राजस्थान कामधेनु डेयरी योजना की शुरुआत लॉकडाउन के समय साल 2020 में हुई थी।

Q : राजस्थान कामधेनु डेयरी योजना की आधिकारिक वेबसाइट कौन सी है ?

Ans : राजस्थान कामधेनु डेयरी योजना का आधिकारिक वेबसाइट animalhusbandry.rajasthan.gov.in/ हैं।

Q : राजस्थान कामधेनु डेयरी योजना के अंतर्गत किन्हें लाभ प्राप्त होगा ?

Ans : राजस्थान कामधेनु डेयरी योजना के अंतर्गत किसानों और पशुपालकों को लाभ प्राप्त होगा।

Q : राजस्थान कामधेनु डेयरी योजना का उद्देश्य क्या है ?

Ans : इस योजना के अंतर्गत शुद्ध दूग्ध की पूर्ति करना और मजदूरों को रोजगार देना है।

Q : राजस्थान कामधेनु डेयरी योजना  के लाभार्थी कौन है ?

Ans : पशुपालकों को और डेयरी चालकों को इस योजना का सबसे अधिक फायदा मिलेगा।

Q : राजस्थान कामधेनु डेयरी योजना अप्लाई करने की अंतिम तिथि क्या है ?

Ans : राजस्थान कामधेनु डेयरी योजना में अप्लाई करने की आखिरी तारीख 30 जून हैं।

Similar articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here